Loan के लिए कितने साल का ITR चाहिए होता है?

जब भी आपको लोन की जरूरत (Loan Requirement) होती है. जैसे पर्सनल लोन, होम लोन, व्हीकल लोन आदि. इन सभी के लिए आपसे सभी दस्तावेजों के साथ ITR यानी Income Tax Return की भी मांग की जाती है. अब कई लोगों को इनकम टैक्स रिटर्न के बारे में पता तो होता है लेकिन वो ITR फिल नहीं करते

जब भी आपको लोन की जरूरत (Loan Requirement) होती है. जैसे पर्सनल लोन, होम लोन, व्हीकल लोन आदि. इन सभी के लिए आपसे सभी दस्तावेजों के साथ ITR यानी Income Tax Return की भी मांग की जाती है. अब कई लोगों को इनकम टैक्स रिटर्न के बारे में पता तो होता है लेकिन वो ITR फिल नहीं करते और इस चक्कर में कई बार बड़ा लोन उन्हें नहीं मिल पाता है. तो अगर आप कोई बड़ा लोन लेना चाहते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि लोन के लिए आईटीआर क्यों जरूरी होता है? और लोन के लिए कितने साल का आईटीआर होना चाहिए?

ITR क्या होता है? (What is ITR?)

आईटीआर का पूरा नाम इनकम टैक्स रिटर्न (ITR Full Form in Hindi) होता है. जिसका सीधा सा मतलब होता है कि आपने जो भी कमाया है और जो भी खर्च किया है उसकी जानकारी आप सरकार को दे रहे हैं. मतलब इसमें आपकी कमाई और आपके खर्चों का लेखा-जोखा होता है. इसमें आपकी मुख्य कमाई के साथ-साथ अन्य कमाई जैसे किराए आदि से कमाई भी शामिल होती है जिसे आपकी आमदनी में गिना जाता है.

लोन के लिए आईटीआर क्यों जरूरी होता है? (Why ITR is Required for Loan?)

लोन लेने के लिए बैंक और अन्य वित्तीय संस्थान सीधे तौर पर ये देखते हैं कि आप जो लोन लेने के लिए अप्लाई कर रहे हैं आप उसे चुकाने के योग्य हैं या नहीं है. मतलब आप जितना लोन ले रहे हैं उसे चुकाने लायक आपकी सैलरी या कमाई है या नहीं है.

अब आईटीआर में आपकी आमदनी और खर्चों का विवरण होता है. जो सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होता है. अगर आप लोन के लिए आईटीआर देते हैं तो उन्हें सीधे तौर पर ये पता चल जाता है कि आप कितना कमाते हैं और कितना खर्च करते हैं. इसलिए बैंक और अन्य वित्तीय संस्थान आपसे आईटीआर की मांग करते हैं. अगर आपके पास आईटीआर है तो आपको लोन मिलने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

क्या जीरो आईटीआर से मिल सकता है लोन? (Is Zero ITR is eligible for loan?)

कई लोग ये सोचते हैं कि वे उतना नहीं कमाते हैं जितने पर इनकम टैक्स लगता है. इसलिए उन्हें आईटीआर भरने की कोई जरूरत नहीं है. लेकिन अगर आपको लोन चाहिए तो आपका ऐसा सोचना गलत है. दरअसल जिन लोगों की आय कम है और उन पर इनकम टैक्स नहीं लगता है उन्हें Zero ITR File करना चाहिए. ऐसा करने से उनकी इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगेगा और उनके पास रिकॉर्ड रहेगा कि उनके द्वारा कितनी कमाई की गई है. Zero ITR भी आपके लिए उतना ही जरूरी है जितना कि Normal ITR है.

लोन लेने के लिए कितने साल का ITR जरूरी होता है? (How much ITR required for loan?)

किसी भी तरह का लोन हो उसके लिए आईटीआर लगता है ये बात तो आप जानते ही है. लेकिन ये आईटीआर कितने सालों का होना चाहिए इस बात को काफी कम लोग जानते हैं. लोन लेने के लिए आपके पास कम से कम दो साल का आईटीआर जरूर होना चाहिए. तब जाकर बैंक आपको खुशी-खुशी लोन दे देगी.

आईटीआर पर कितना लोन मिल सकता है? (How much loan can get on ITR?)

अब सवाल ये आता है कि आपने जो आईटीआर फाइल किया है उस पर आपको कितना लोन मिल सकता है. तो जानकारी के मुताबिक आप सालभर में जितनी कमाई का आईटीआर भरते हैं उसका आपको 5 गुना तक लोन मिल सकता है. जैसे आईटीआर में आपकी इनकम 5 लाख रुपये है तो आपको 25 लाख तक का लोन मिल सकता है.

आईटीआर की मदद से आप 5 गुना तक लोन तो पा सकते हैं लेकिन ये मान कर चलिये कि जब राशि तीन गुना से पाँच गुना के बीच जाएगी तो आपको हो सकता है किसी ऐसे गारंटर की जरूरत पड़े जो आपसे ज्यादा आईटीआर भरता हो.

यह भी पढ़ें :

Income tax refund : इनकम टैक्स रिफ़ंड कैसे पाएंं, इनकम टैक्स रिफ़ंड स्टेटस कैसे चेक करें?

Income Tax Saving Idea : इनकम टैक्स छूट कैसे पाएँ, इनकम टैक्स बचाने के तरीके?

Income calculate : इनकम टैक्स के लिए इनकम की गणना कैसे करें?

error: Content is protected !!